PM Kisan e-KYC Online Process – जानिये कैसे आप खुद पीएम किसान KYC कर सकते है

वर्तमान में, भारत सरकार किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना के जरिए आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है। इस योजना के तहत, हर सीमांत किसान को ₹2000 की किस्त उनके बैंक खाते में ट्रांसफर की जा रही है। हालांकि, अब वे किसान जो पीएम किसान ई-केवाईसी को पूरा कर चुके हैं, सिर्फ उन्हें यह आर्थिक सहायता मिल रही है। अगर आपने अभी तक PM Kisan e-KYC नहीं कराई है, तो आपको PM Kisan Yojana KYC के बारे में जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताएंगे कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) ई-केवाईसी कैसे कर सकते हैं। हम इसके साथ-साथ पीएम किसान योजना के लाभ और मुख्य तथ्यों के बारे में भी चर्चा करेंगे। सरकार ने इस योजना के तहत ई-केवाईसी को पूरा करना अनिवार्य बनाया है, लेकिन कई किसान अभी तक KYC प्रक्रिया में कई समस्याओं का सामना कर रहे हैं। इस आलेख के माध्यम से हम उन किसानों को कौन-कौन से कदम उठाने में मदद कर सकते हैं, यह जानेंगे।

PM Kisan e-KYC क्या है ?

वर्तमान में, प्रत्येक सीमांत किसान को हर 4 महीने पर ₹2000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है, इसका नाम पीएम किसान योजना है, जो भारत सरकार द्वारा शुरू की गई है। हालांकि, कुछ लोग इस योजना के लाभ के पात्र नहीं हैं, फिर भी वे इसका गलत तरीके से उपयोग कर रहे हैं।

इस समस्या को सुलझाने के लिए, सरकार ने पीएम किसान e-KYC को लागू किया है, जिससे स्पष्ट होता है कि कौन इस योजना के लाभार्थी हैं और कौन नहीं। PM Kisan e-KYC के माध्यम से, सभी किसानों के डेटा को सरकार द्वारा सुरक्षित रखा जाएगा, और इसे आने वाले समय में उन्हें सीधे लाभ पहुंचाने के लिए उपयोग किया जाएगा, जब सरकार नई स्कीमें का आयोजन करेगी।

PM Kisan e-KYC करना क्यों जरूरी है ?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan) में भारत सरकार ने e-KYC शुरू किया है ताकि योजना के लाभ सही व्यक्तियों तक पहुंच सके। यहाँ कुछ कारण हैं जो PM Kisan e-KYC को जरूरी बनाते हैं:

  • सही लाभार्थी निर्धारित करना: e-KYC से यह सुनिश्चित होता है कि योजना का लाभ सिर्फ वास्तविक किसानों तक पहुंचे।
  • दुप्लीकेट और गलत आवश्यक नहीं होने देना: ई-केवाईसी द्वारा, गलत या डुप्लीकेट आवश्यक बनाने की संभावना कम होती है और सभी जानकारी सही तथा अद्यतित रहती है।
  • डेटा सुरक्षितता: e-KYC से डेटा सुरक्षित रहता है और व्यक्तिगत जानकारी का सही उपयोग होता है, जिससे किसानों की गोपनीयता की सुरक्षा होती है।
  • आगामी योजनाओं के लिए तैयारी: e-KYC के माध्यम से सरकार आगामी किसानों के लिए नई योजनाओं की तैयारी कर सकती है और उन्हें सीधे लाभान्वित करने में मदद कर सकती है।

PM Kisan e-KYC का अधिकतम फायदा उठाने के लिए किसानों ई-केवाईसी को करवाना अनिवार्य है।

पीएम किसान ईकेवाईसी के लिए आवश्यक दस्तावेज

पीएम किसान सम्मान निधि योजना की ई-केवाईसी दस्तावेज़ पूरा करने के लिए, पंजीकृत किसान को एक मान्य आधार कार्ड होना चाहिए। यदि किसान का मोबाइल नंबर उसके आधार कार्ड से जुड़ा होता है, तो वह अपनी पीएम किसान ई-केवाईसी 2024 को ऑनलाइन पूरा कर सकता है। उपयोगकर्ता को PM किसान ई-केवाईसी के लिए ऑफलाइन सुविधा पर, जैसे कि कॉमन सर्विस सेंटर, में ऑफलाइन ई-केवाईसी को पूरा करना होगा।

  • मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड

PM Kisan e-KYC Online कैसे करें?

यदि आप पीएम किसान e-KYC करना चाहते है तो नीचे स्टेप-बाय-स्टेप देख कर आप घर बैठे अपना पीएम किसान ई-केवाईसी खुद कर सकते हैं:

  • सबसे पहले, पीएम किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट – https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • वहां, “FARMER CORNER” ऑप्शन में जाएं और “e-KYC” ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • ई-केवाईसी के ऑप्शन पर क्लिक करने पर, आपके सामने एक OTP Based Ekyc बॉक्स दिखाई देगा।
  • अपना आधार नंबर डालें और फिर आपसे मोबाइल नंबर पूछा जाएगा। यही मोबाइल नंबर होना चाहिए जो आपके आधार से लिंक है।
  • नीचे गेट ओटीपी के ऑप्शन पर क्लिक करें और आपके द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा।
  • ओटीपी को डालें और सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, आपकी ई-केवाईसी पूर्ण हो जाएगी और आप आसानी से पीएम किसान योजना की 16वीं किस्त प्राप्त कर सकेंगे।

इस तरह से आप अपनी PM Kisan e-KYC को खुद कर सकते हैं।

CSC Center के माध्यम से पीएम किसान ईकेवाईसी कैसे करवाए

पीएम किसान ई-केवाईसी को सीएससी सेंटर के माध्यम से करने के लिए निम्नलिखित कदमों की Follow करें:

  • अपने नजदीकी सीएससी सेंटर पहुँचें।
  • संबंधित व्यक्ति से कहें कि PM किसान ई-केवाईसी को ऑनलाइन अपडेट करें।
  • उन्हें आवश्यक जानकारी प्रदान करें, जैसे कि आधार कार्ड विवरण।
  • वे आवश्यक विवरण भरेंगे और उन्हें वेबसाइट पर सबमिट करेंगे।
  • इसके बाद, सिस्टम आधार विवरणों के साथ अन्य जानकारी की पुष्टि करेगा।
  • एक बार जब वे विवरण सत्यापित करेंगे, तब ई-केवाईसी हो जाएगी।

PM KISAN eKYC Status Update

हाल ही में, पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2024 में कई महत्वपूर्ण संशोधन हुए हैं। केवल वे किसान अधिभारित होंगे जो ई-केवाईसी को पूरा करते हैं, उन्हें अगले भुगतान के लिए पात्र माना जाएगा। उनका भुगतान इसे पूरा करने तक नहीं होगा। किसान सम्मान निधि योजना का उद्दीपन किसानों की सहायता के लिए किया गया था, और इसमें लगभग सभी किसान पंजीकृत हैं।

PM Kisan e-KYC कराने के बाद भी खाते में पैसे नहीं आए तो यहां करें संपर्क

पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) की किस्त ना आने के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जैसे कि ई-केवाईसी (e-KYC), भू-सत्यापन और आधार (Aadhaar) का लिंक नहीं करवाना। आपको बताना चाहता हूं कि बेनिफिशियरी लिस्ट में नाम शामिल होने के बावजूद, किसानों को ई-केवाईसी और आधार सीडिंग करवाना अत्यंत आवश्यक है। इसे अनदेखा करने पर, किसान पीएम किसान योजना की किस्त से वंचित हो सकते हैं।

यदि आपने इन सभी आवश्यक क्रियाओं को पूरा कर लिया है, तो आप इसकी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। और इस विषय में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए, आप अपने स्थानीय कृषि समन्वयक, किसान सलाहकार, जिला कृषि कार्यालय, और जिला के प्रमुख डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) के अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा, पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर 155261 या 011-24300606 पर संपर्क करके अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

पीएम किसान योग्यता जानेंPM Kisan e-KYC करें
नये किसान रजिस्ट्रेशन करेंPM Kisan List
Beneficiary Status List 2024हेल्पलाइन नंबर
आधार से पीएम किसान स्टेटस देखेंKnow Your Registration Number